Education

CMLT Course Details in Hindi

CMLT Course Detalis in Hindi: आज के इस लेख में हम सीएमएलटी कोर्स क्या होता है और इसके कैसे करें? इसके बारे में डिटेल में जानकारी देंगे। अगर आप भी लैब टेक्नीशियन बनना चाहते हैं तो आप इस पोस्ट को जरूर पढ़े। इस पोस्ट में CMLT Course के बाद सक्सेजफुल लैब टेक्नीशियन कैसे बनें इसके बारे में बिस्तार से बताया है। इस आर्टिकल में हम ये भी बताएंगे कि आपको CMLT करना चाहिए या नही। इसको करें तो कंहा से करें।

लैब टेक्नीशियन बनने के लिए कई कोर्स होते हैं, जैसेकि कि DMLT Course ये एक डिप्लोमा कोर्स है। इसके बाद एक BMLT Course होता है, जोकीं लैब टेक्नोलॉजी के फील्ड में बैचलर डिग्री कोर्स होता है। जो ये CMLT कोर्स है ये सर्टिफिकेट कोर्स है।

सीएमएलटी कोर्स उन स्टूडेंट्स के लिए अच्छा है जोकीं ज्यादा पढ़ाई किस कारणवश नही कर पा रहे हैं, सोंचते हैं कि कोई ऐसा कोर्स हो जिसको 6 महीने या 1 साल में करके नौकरी मिल जाये, तो ऐसे कैंडिडेट्स के लिए ये कोर्स एक बढ़िया कैरियर के विकल्प है। ये भी काफी अच्छा मेडिकल कोर्स हैं। जिसके माध्यम से आप पैरामेडिकल के फील्ड में अच्छा कैरियर बना सकते हैं। चलिये अब आपको सीएमएलटी कोर्स (CMLT Course Details in Hind) के बारे में डिटेल में बताते हैं।

CMLT Course Details in Hindi

सीएमएलटी की फुल फॉर्म सर्टिफिकेट इन मेडिकल लेबोरेट्री टेक्नोलॉजी होती है। जोकीं लैब टेक्नीशियन बनने के लिए सर्टिफिकेट कोर्स होता है। (CMLT) मेडिकल लेबोरेटरी टेक्नोलॉजी में सर्टिफिकेट एक शॉर्ट टर्म स्पेशलाइजेशन कोर्स है। इसकी अवधि संस्थान के आधार पर 6 महीने से लेकर 1 साल होती है। अवधि के लिए। ये कोर्स ​​​​प्रयोगशाला परीक्षण के माध्यम से रोगों की रोकथाम, निदान और उपचार से संबंधित होता है।

Secrets Tips

वर्तमान समय मे मेडिकल लेबोरेट्री टेक्नोलॉजी कोर्स की काफी ज्यादा लोकप्रियता है। CMLT करने के बाद में लेबोरेटरी टेक्नीशियन, लेबोरेटरी मैनेजर, रिसर्च एसोसिएट, लैब असिस्टेंट, मेडिकल रिकॉर्ड टेक्नीशियन, एसोसिएट मैनेजर, टेस्टिंग मैनेजर जैसे महत्वपूर्ण पदों पर जॉब की जा सकती है।

आमतौर पर इस कोर्स को किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 10वीं या 12वीं पास कैंडिडेट इस कोर्स को कर सकते हैं। अलग-अलग संस्थान में प्रवेश के नियम व पात्रता अलग- अलग होती हैं।

CMLT Course Elegibility

मेडिकल लेबोरेटरी टेक्नोलॉजी में सर्टिफिकेट कोर्स CMLT)के लिए आवश्यक योग्यता कोई ज्यादा कठिन होती है। किसी भी संकाय के 10वीं या 12वीं 45 से 50 प्रतिशत अंकों से पास कैंडिडेट इस कोर्स को कर सकते हैं। अलग- अलग कॉलेजों और यूनिवर्सिटीज में प्रवेश की पात्रता भिन्न- भिन्न हो सकती हैं।

फिलहाल जिन छात्रों ने किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से अपना 10 + 2 पूरा कर लिया है, वे मेडिकल लेबोरेटरी टेक्नोलॉजी में सर्टिफिकेट कोर्स के लिए पात्र हैं। कुछ संस्थान 10वीं या 12वीं की मेरिट के आधार पर एडमिशन देते हैं, वंही कुछ संस्थान मेरिट के आधार पर एडमिशन न देकर ऐसे ही डायरेक्ट एडमिशन दे देते हैं। जो ज्यादा नामी और फेमस संस्थान हैं, वे प्रवेश परीक्षा के माध्यम से भी एडमिशन दे सकते हैं।

CMLT Course kyo kare

मेडिकल लेबोरेटरी टेक्नोलॉजी में सर्टिफिकेट कोर्स प्राप्त करने का मुख्य उद्देश्य छात्र की रुचि और लक्ष्यों पर निर्भर करता है कि वह किस उद्देश्य से इस कोर्स को कर रहा है। इस कोर्स को करने के कुछ मुख्य कारण निम्न हैं।

अत्यधिक प्रतिष्ठित पेशा: मेडिकल सर्टिफिकेट कोर्स (CMLT) एक अत्यधिक मांग वाला कोर्स है जिसे कोई भी कर सकता है। इससे संबंधित कोर्स करने वाले कैंडिडेट्स को आसानी से नौकरी मिल जाती है।

उच्च वेतन वाला प्रोफेशन: इस फील्ड में सैलरी भी अन्य सेक्टर की तुलना में ज्यादा मिलती है। गवर्नमेंट सेक्टर के अलावा प्राइवेट सेक्टर में भी अच्छी सैलरी मिलती है। इसको पूरा करने के बाद में प्रयोगशाला तकनीशियन, प्रौद्योगिकी प्रबंधक, प्रयोगशाला प्रबंधक, चिकित्सा अधिकारी, अनुसंधान सहयोगी, प्रयोगशाला सहायक जैसे महत्वपूर्ण पदों पर जॉब मिलती है।

मेडिकल फील्ड में कैरियर के अवसर: इस कोर्स को करने के बाद आप चिकित्सा यानी कि दुनिया के सबसे हाई डिमांडिंग सेक्टर में कैरियर बनाने का अवसर पाते हैं। इस फील्ड में आप डिग्री भी कर सकते हैं।

Career Scope in CMLT Course

लैब टेक्नोलॉजी का दायरा वर्तमान समय मर काफी ज्यादा बढ़ रहा है। इसलिए इस फील्ड में जॉब के अवसरों की कमी नही हैं। जिस तरह से हॉस्पिटल्स और पैथालॉजी की संख्या बढ़ रही है, ठीक उसी तरह इस फील्ड में एक्सपर्ट लोगों की भी डिमांड बढ़ रही है।

आज के समय मे नई-नई बीमारियों ने दस्तक दे रही हैं। जिस वजह से बीमारियों को समझने के लिए डॉक्टर सबसे पहले मरीजों को विभिन्न तरह की जाँच करवाने की सलाह देते हैं, जिससे कि उस रोग के बारे में सही से पता चल जाये कि असल मे रोगी को कौन सा रोग है। जब रोग के बारे में पता चल जाता है तो फिर उसका इलाज करने में आसानी रहती है।

लैब टेक्नीशियन एक डॉक्टर का दाहिना हांथ होता है। किसी भी रोगी का उपचार करने में पैथोलॉजी टेक्नीशियन का अहम रोल होता है। जब लैब टेक्नीशियन या पैथालॉजी टेक्नीशियन जांच करके बीमारी का पता लगाता है तभी उस जांच के आधार पर डॉक्टर मरीज का इलाज करते हैं।

इस फील्ड में रोजगार के असीमित अवसर उपलब्ध हैं। आप विभिन्न पैथोलॉजी लैब और हॉस्पिटल्स में जो पैथालॉजी लैब होती हैं, इनमे आसानी से जॉब पा सकते हैं। आज के समय मे पैथालॉजी लैब और हॉस्पिटल्स की संख्या काफी ज्यादा हो चुकी है और आये दिन इनकी संख्या और भी ज्यादा बढ़ रही है, जिस वजह से लैब टेक्नीशियन की डिमांड काफी बढ़ रही है। कुल मिलाकर इस कोर्स के बाद आपको आसानी से जॉब मिल जायेगी अगर आपके अंदर इस फील्ड का सही नॉलेज है।

CMLT में जॉब की संभावनाएं

चिकित्सा प्रयोगशाला प्रौद्योगिकी (लैब टेक्नोलॉजी) के क्षेत्र में रोजगार के अनेक अवसर हैं। उद्योग के कई अलग-अलग क्षेत्रों में लैब टेक्नीशियन को काम पर रखा जाता है। इसमे छात्रों को मेडिकल कंटेंट राइटिंग, फार्मा कंपनीज, हॉस्पिटल एडमिनिस्ट्रेटिव जॉब्स, सेल्फ क्लीनिक, रिसर्च लैब, पैथोलॉजी लैब आदि जैसे क्षेत्रों में नौकरी के अवसर मिलते हैं।

Job Profle (इन पदों पर मिलेगी जॉब)

लेबोरेट्री टेक्नीशियन

मेडिकल रिकॉर्ड टेक्नीशियन

लेबोरेट्री टेस्टिंग मैनेजर

टेक्नोलॉजी मैनेजर

एसोसिएट मैनेजर

असिस्टेंट मेडिकल लैब टेक्नीशियन

असिस्टेंट मैक्रोबियोलॉजी टेक्नीशियन

असिस्टेंट बायोकेमिस्ट्री टेक्नीशियन

रिसर्च एसोसिएट

रिसर्च असिस्टेंट

Job Area in CMLT (जॉब के क्षेत्र)

मेडिकल कॉलेज और यूनिवर्सिटीज

गवर्नमेंट हॉस्पिटल्स

प्राइवेट हॉस्पिटल्स

पैथालॉजी लैब

कंटेंट राइटिंग

मेडिकल फार्मा

एडमिनिस्ट्रेटीव जॉब

रिसर्च लैब्स

Salary after CMLT Course

इस कोर्स को पूरा करने के बाद में शुरुआत में आपको 8 से 10 हजार रुपये प्रतिमाह के सैलरी आसानी से मिल जाती है। जैसे- जैसे आपको अनुभव बढ़ता जाता है तो आपकी सैलरी भी बढ़ती जाती है। 2 से 3 साल का अनुभव होने के बाद आप आसानी से 20 से 25 हजार की सैलरी अर्जित कर सकते हैं।

Skills for Career in CMLT

मेडिकल लेबोरेटरी टेक्नोलॉजी में सर्टिफिकेट कोर्स (CMLT) मुख्य रूप से क्लिनिकल लैबोरेटरी टेस्ट के माध्यम से रोगों के उपचार, निदान और रोकथाम से संबंधित होता है। इस पाठ्यक्रम में, छात्रों को सटीक प्रयोगशाला परीक्षण करने के लिए उन्नत उपकरणों को संभालने के लिए आवश्यक कौशल सीखने को मिलता है। इसलिए इस फील्ड में कैरियर बनाने के लिए जरूरी है कि आपको आपको लैब परीक्षा और सैंपल लेने का ज्ञान होना चाहिए।

CMLT Course Fees

इस कोर्स की फीस अलग-अलग संस्थानो में अलग- अलग होती है। फिलहाल इसकी फीस 5 हजार से लेकर 50 हजार तक होती है। अगर आप सरकारी कॉलेजों से करते हैं, तो इसकी फीस काफी कम होती है वंही प्राइवेट संस्थान काफी ज्यादा फीस चार्ज करते हैं।

अब आपको CMLT Course Details in Hindi इसके बारे में सही और सटीक जानकारी मिल गई है। चलिये अब मैं आपको CMLT कोर्स से जुड़े कुछ ऐसे महत्वपूर्ण प्रश्नों के बारे में बताता हूँ, जोकीं काफी ज्यादा गूगल में सर्च किये जाते हैं।

CMLT से संबंधित गूगल में सर्च किये जाने वाले प्रश्न:

CMLT Course कंहा से नही करना चाहिए?

आज के समय मे अनेक ऐसे कॉलेज हैं, जो सीएमएलटी के नाम पर स्टूडेंट्स को ठगने का काम करते हैं। इसलिए किसी भी कॉलेज में एडमिशन लेने से पहले इसकी विश्वासनीयता के बारे में जरूर जांच- पड़ताल कर लें। हमेशा रेपुटेटेड कॉलेज से ही CMLT करें।

Which is better Cmlt or DMLT?

काफी स्टूडेंट्स जानना चाहते हैं कि CMLT कोर्स अच्छा है या DMLT तो मैं आपको बता दूं सीएमएलटी के बाद भी आप जॉब पा सकते हैं, यह एक लैब टेक्नोलॉजी के फील्ड में एंट्री लेवल का सर्टिफिकेट कोर्स है। लेकिन जो DMLT होता है ये एक डिप्लोमा कोर्स है। इसमे आपको लैब टेक्नोलॉजी के बारे में डिटेल में पढ़ने और सीखने को मिलता है। इसलिए DMLT सीएमएलटी से ज्यादा अच्छा कोर्स है

What can I do after Cmlt?

हां आप सीएमएलटी के बाद DMLT कर सकते हैं।

CMLT Course किसको करना चाहिए?

जो स्टूडेंट्स 10वीं या 12वीं के बाद कम अवधि के और सस्ते कोर्स करना चाहते हैं, उनके लिए CMLT एक अच्छा कैरियर विकल्प है। क्योंकि ये मात्र 6 महीने से लेकर 1 साल का कोर्स होता है। जिसके बाद आपको जॉब मिल सकती हैं।

What is Cmlt and DMLT course?

सीएमएलटी लैब टेक्नोलॉजी में सर्टिफिकेट कोर्स होता है। वंही DMLT एक डिप्लोमा कोर्स होता है।

CMLT course Fees

इसकी फीस 7 हजार से लेकर 50 हजार के बीच मे होती है। अगर आप सस्ते में और अच्छे कॉलेज से इस कोर्स को करना चाहते हो तो गवर्नमेंट कॉलेज से इसको करें। प्राइवेट संस्थान में फ़ीस काफी ज्यादा होती है। जोकीं 20 हजार से लेकर 50 हजार तक हो सकती है। वंही सरकारी कॉलेज से आप 7 से 10 हजार में ही इसको कर सकते हैं।

CMLT salary

इस कोर्स को पूरा करने के बाद शुरुआती सैलरी आप 8 से 10 हजार तक कि पा जाते हैं, जोकीं अपने एक्सपीरिएंस के साथ- साथ बढ़ती जाती है।

CMLT course after 10th

सीएमएलटी कोर्स को 10th के बाद भी कर सकते हैं। आप चाहें इसको 10वीं के बाद करें या 12वीं के बाद दोनों के बाद फीस सेम ही रहती है और जॉब भी समान ही मिलती हैं। दोनो के बाद एडमिशन का क्राइटेरिया भी समान ही रहता है।

Difference between CMLT and DMLT

सीएमएलटी कोर्स और DMLT दोनो में मुख्य अंतर ये है कि CMLT सर्टिफिकेट कोर्स है। जिसको 10 th या 12th के बाद कर सकते हैं। इसकी ड्यूरेशन केवल 6 महीने से लेकर 1 साल होती है और इसकी फीस भी कम होती है। जॉब के मामले में CMLT से अच्छा DMLT है। DMLT एक डिप्लोमा कोर्स है। जिसको सिर्फ 12वीं के बाद ही किया जा सकता है। इसकी फीस CMLT की तुलना में काफी ज्यादा होती है। इसकी ड्यूरेशन 2 साल होती है। DMLT को CMLT की तुलना में ज्यादा अच्छा माना जाता है।

CMLT Full Form

सीएमएलटी की फुल फॉर्म सर्टिफिकेट इन मेडिकल लेबोरेट्री टेक्नोलॉजी होती है।

Which course is best for laboratory?

लैबोरेटरी टेक्नोलॉजी के फील्ड में कैरियर बनाने के लिए BMLT सबसे अच्छा कोर्स है। उसके बाद DMLT है। फिर अंत मे CMLT आता है।

CMLT course duration

सीएमएलटी कोर्स की ड्यूरेशन 6 महीने से लेकर 1 साल होती है। फिलहाल 1 साल का CMLT ज्यादा अच्छा माना जाता है।

CMLT course eligibility

इस कोर्स के लिए कैंडिडेट 10वीं या 12वीं पास होना चाहिए।

CMLT course Syllabus (सीएमएलटी में क्या पढ़ाया जाता है)

Human Anatomy

Microbiology

Physiology

Pathology

Sociology

Biochemistry

Environmental science and health

Constitution of India

CMLT कोर्स के फायदे

मेडिकल लेबोरेटरी टेक्नोलॉजी में सर्टिफिकेट कोर्स मूल रूप से उपचार व निदान से संबंधित होता है, नैदानिक ​​​​प्रयोगशाला परीक्षणों की मदद से बीमारियों की रोकथाम में मदद करता है।

इस कोर्स में, छात्र सटीक प्रयोगशाला परीक्षण करने के लिए उन्नत उपकरणों को संभालने के लिए आवश्यक सभी कौशल सिखाये जाते हैं।

यह चिकित्सा प्रयोगशाला कोर्स स्वचालित, अर्ध-संचालित और रक्त गणना कोशिकाओं में प्रक्रियाओं के बारे में निर्देश का मार्गदर्शन करता है।

इस कोर्स में, छात्र बुनियादी इम्यूनोलॉजी, चयापचय और आनुवंशिकी, सांस्कृतिक विशेषताओं, माइक्रोबियल आकारिकी और रोग प्रक्रिया के सिद्धांत सहित प्रमुख विषयों का अध्ययन करते हैं।

इसमे छात्रों को यह सीखने को मिलता है कि वे लैब में परीक्षण कैसे करें जो रोगों के निदान और उपचार में मदद करते हैं। उन्हें एनीमिया जैसे विभिन्न हेमटोलोगिक विकारों के गठन के बारे में भी जानने का अवसर मिलता है।

CMLT करना चाहिए या नही?

मौजूदा समय मे सीएमएलटी करना उतना फायदेमंद नही है, जितना कि DMLT या BMLT। क्योंकि सीएमएलटी एक सर्टिफिकेट कोर्स है, जिसमें आपको इस फील्ड का सीमित ही ज्ञान मिलता है। दूसरी बात ये भी है कि जॉब के मामले में DMLT या BMLT वालों को प्राथमिकता दी जाती है।

उम्मीद है कि CMLT Course Details in Hindi ये आर्टिक्ल आपको पसन्द आया होगा, क्योंकि इसमे मैंने CMLT Course और इसमे career से जुड़ी और भी महत्वपूर्ण जानकारी दी है, जोकीं आपके लिए बहुत ही यूजफुल साबित होगी।

careermotto

A self-motivated and hard-working individual, I am currently engaged in the field of digital marketing to pursue my passion of writing and strategising. I have been awarded an MSc in Marketing and Strategy with Distinction by the University of Warwick with a special focus in Mobile Marketing. On the other hand, I have earned my undergraduate degrees in Liberal Education and Business Administration from FLAME University with a specialisation in Marketing and Psychology.

Related Articles

Back to top button