Medical and Healthcare

Medical Lab Technician kaise bane-लैब टेक्नीशियन बनना है तो ये जान लें

मेडिकल लैब टेक्नीशियन (Medical Lab Technician) हेल्थकेअर इंडस्ट्री में काफी पॉपुलर कोर्स है। बढ़ती जनसंख्या के कारण और खान- पान और रहन- सहन आदि में काफी बदलाव आ गया है। जिसके कारण ऐसा वातावरण में अनेक नई- नई बीमारियां जन्म ले रही है। इसलिए इनका उपचार भी काफी जटिल हो रहा है।

अक्सर डॉक्टर को समझ मे नही आ पाता है कि इस व्यक्ति को क्या बीमारी हो सकती है। ऐसे में मेडिकल लैब टेकनीशियन काफी महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वहन करता है। वह रोगों की जानकारी के लिए रोगियो की जांच करता है। जिसके द्वारा बीमारीं की सटीक जानकारी मिल जाती है कि किसको कौन सी बीमारीं है। ताकि डॉक्टर सही तरह से उस रोग का इलाज कर सके।

अगर आपकी हेल्थ के इस फील्ड में रुचि है। आपको जांचे, परीक्षण करना अच्छा लगता है। फिर तो मेडिकल लैब टेक्नीशियन (Medical Lab Technician) आपके लिए अच्छा कोर्स है। लेकिन अगर आप लैब टेकनीशियन कोर्स के बारे में जानकारी चाहते है तो इस पोस्ट में आप स्टेप by स्टेप मेडिकल लैब टेकनीशियन कोर्स में जानकारी पाएंगे।

हमारा मकसद है कि मैं आपको मेडिकल लैब टेकनीशियन कोर्स के बारे में हर तरह की जानकारी दूं। जिससे आपके मन मे मेडिकल लैब कोर्स से संबंधित कोई भी डाउट न रहें। इस पोस्ट में हम आपको Medical Lab Technician कैसे बने इससे रीलेटेड पूरी जानकारी देंगे.

Medical Lab Technician kaise bane

फ्रेंड्स अगर आप पैथोलॉजी में मेडिकल लैब टेकनीशियन बनना चाहते हैं, तो सबसे पहले आपका इंटरेस्ट मेडिकल फील्ड, रिसर्च, जांच और परीक्षण में होना चाहिए। इसके बाद आप Medical Lab Technician का कोर्स कर सकते है।

Related Articles

लैब टेकनीशियन में भी कई तरह के कोर्स होते हैं जैसे सर्टिफिकेट, डिप्लोमा, डिग्री। आप अपनी रुचि, टाइम और बजट के हिसाब से किसी भी कोर्स को कर सकते हैं। कोर्स पूरा करने के बाद आपको किसी भी पैथोलॉजी में इंटर्नशिप करनी चाहिए।

जिससे आपको मेडिकल लैब टेकनीशियन के काम के बारे में सही जानकारी हो जाएगी। इसके बाद आप किसी भी पैथोलॉजी में Medical Lab Technician के रूप में काम कर सकते हैं।

मेडिकल लैब टेकनीशियन Career Scope-

अगर आपने लैब टेकनीशियन का करना चाहते है, तो इसमे रोजगार की कमी नही है। आज के समय मे सबसे ज्यादा ध्यान लोग अपनी हेल्थ पर देते है। छोटी से छोटी बीमारीं में डॉक्टर सबसे पहले जांच कराने को बोलते है और ये सही भी है।

कम से कम ये तो पता चल जाता है कि क्या प्रॉब्लम है। इसी वजह से अनेक पैथोलॉजी खुल रही हैं। लगभग हर हॉस्पिटल में पैथोलॉजी डिपार्टमेंट होता है।

इसके अतिरिक्त अलग भी बहुत से पैथोलॉजी सेंटर है। आप इनमें से कंही भी जॉब के लिए अप्लाई कर सकते हैं। आजकल तो पैथोलॉजी की संख्या इतनी ज्यादा है कि आपको नौकरी के लिए ज्यादा भटकना नही होगा। अगर आप नौकरी नही करना चाहते है, तो खुद का भी पैथोलॉजी खोल सकते है। इस तरह आप Medical Lab Technician के तौर पर शानदार career बना सकते हैं।

मेडिकल लैब टेकनीशियन Course

लैब टेकनीशियन के लिए कई तरह के कोर्स उपलब्ध है, आप अपनी इच्छा के अनुसार किसी मे भी एडमिशन ले सकते हैं। जैसे-

Certificate course in Medical Lab Technician (CMLT)

Diploma in Medical Lab Technician (DMLT)

Bachler in Medical Lab Technician (BMLT)

सर्टिफिकेट कोर्स इन – मेडिकल लैब टेकनीशियन (CMLT)-

ये लैब टेक्नीशियन का सर्टिफिकेट कोर्स होता है। इसकी अवधि 6 महीने से लेकर 1 बर्ष तक होती है। कोई भी स्टूडेंट्स जो 10 वीं पास है। इस कोर्स को कर सकता है। इसकी फीस 30 हजार से लेकर 50 हजार तक होती है।

डिप्लोमा इन मेडिकल लैब टेकनीशियन (DMLT)-

यह डिप्लोमा कोर्स है। इसकी अवधि 2 बर्ष होती हैं। इसके लिए आप 12वीं साइंस बिषयों से पास हों तभी आप इस कोर्स को कर सकते हैं। इसकी फीस 30 हजार से 50 हजार तक।होती है।

बैचलर इन मेडिकल लैब टेकनीशियन (BMLT)-

यह कोर्स 3 से 4 वर्ष का होता है। इसकी फीस 50 से 70 हजार रुपये प्रतिबर्ष होती है। इसके लिए आप 12वीं साइंस बिषय से पास हो।

मेडिकल लैब टेकनीशियन के कार्य- Work

मेडिकल लैब टेक्निशियन किसी बीमारी की पहचान करने के लिए जांच करते है। जिसके आधार पर डॉक्टर ट्रीटमेंट करते हैं।

लैब टेक्नीशियन बॉडी फ्लूड्स, टीसू, बल्ड टाइपिंग, ह्यूमन बॉडी का सेल काउंट करना,
माइक्रोऑर्गेनिज्म स्क्रिनिंग, केमिकल एनालिसिस आदि जांचे व उनका विश्लेषण करते हैं। लैब टेक्नीशियन, सैम्पल, टेस्ट, रिपोर्ट और डॉक्यूमेंट आदि काम करते हैं।

मेडिकल लैब टेकनीशियन – परिशिक्षण (Trainning)

इस कोर्स के दौरान स्टूडेंट्स को एनाटॉमी, माइक्रोबायोलॉजी, पैथोलॉजी, फिजियोलॉजी, बायोकेमिस्ट्री, ब्लड टेस्टिंग एंड सैंपलिंग, पैथोलॉजी मैनेजमेंट आदि की जानकारी दी जाती है।

बेसिक फिजियोलॉजी ,बेसिक बायोकेमिस्ट्री एंड ब्लड टेस्टिंग , एनाटोमी एंड फिजियोलॉजी, माइक्रोबायोलॉजी, पैथोलॉजी, एनवायरनमेंट एंड बायोमेडिकल वेस्ट मैनेजमेंट, मेडिकल लैब टेक्नोलॉजी एवं अस्पताल प्रशिक्षण दिया जाता है |

मेडिकल लैब टेक्नीशियन किन क्षेत्रों में काम करते हैं-

हेमाटोलॉजी

इम्यूनोलॉजी

माइक्रोबायोलॉजी

ब्लड बैंकिंग

साइटोटेक्नोलॉजी

मोलीक्यूलर बायोलॉजी

क्लिनिकिल केमिस्ट्री

लैब टेक्नीशियन को किन पदों पर काम करने का मौका मिलता है।

पैथोलॉजी लैब टेक्निशियन

कंसल्टेंट

हेल्थ एंड सेफ्टी ऑफिसर

सुपरवाइजर

मेडिकल लैब टेकनीशियन – सैलेरी

एक आम लैब टेक्नीशियन को लगभग 10 से 12 हजार रुपये प्रतिमाह मिल जाते है। वंही आपको 3 से 5 साल का अनुभव होने के बाद 20 से 30 हजार रुपये तक आसानी से मिल सकते हैं।

Medical Lab Technician कोर्स कंहा से करें-

कालीकट यूनिवर्सिटी

गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज, इंदौर

एमिटी यूनिवर्सिटी

चिरायु मेडिकल कॉलेज, अमृतसर

मणिपाल यूनिवर्सिटी, मणिपाल

दिल्ली यूनिवर्सिटी

जामिया हमदर्द यूनिवर्सिटी

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी

इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ पारामेडिकल साइंसेज, लखनऊ

इंस्टिट्यूट ऑफ पोस्ट ग्रेजुएट मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च, कोलकाता

देल्ही पारामेडिकल एंड मैनेजमेंट इंस्टिट्यूट, नई दिल्ली

पैरामेडिकल कॉलेज, दुर्गापुर

शिवालिक इंस्टिट्यूट ऑफ पारामेडिकल टेक्नॉलजी, चंडीगढ़

तीर्थंकर महावीर यूनिवर्सिटी, मुरादाबाद

राममूर्ति मेडिकल कॉलेज, बरेली

रूहेलखंड मेडिकल कॉलेज, बरेली

IFTM यूनिवर्सिटी, मुरादाबाद

इनके आलवा भी बहुत से अच्छे कॉलेज और यूनिवर्सिटी हैं, जंहा से आप इस कोर्स को कर सकते हैं।


आपके लिए बेहतर होगा कि आप गवर्नमेंट कॉलेज से इस कोर्स को करें। इसके लिए आपको एंट्रेन्स एग्जाम देना होगा। क्योंकि सरकरीं कॉलेज में बहुत ही कम फीस में हो जाता है। प्राइवेट कॉलेज में एडमिशन डायरेक्ट या मेरिट के आधार पर हो जाता है

फ्रेंड्स उम्मीद करते है कि आपको हमारी ये जानकारी Medical Lab Technician कैसे बने पसन्द आयी होगी। अगर आपके दिमाग मे किसी भी प्रकार का सवाल जबाब है तो हमे कमेंट करके पूंछ सकते है।

careermotto

A self-motivated and hard-working individual, I am currently engaged in the field of digital marketing to pursue my passion of writing and strategising. I have been awarded an MSc in Marketing and Strategy with Distinction by the University of Warwick with a special focus in Mobile Marketing. On the other hand, I have earned my undergraduate degrees in Liberal Education and Business Administration from FLAME University with a specialisation in Marketing and Psychology.

Related Articles

Check Also
Close
Back to top button