Education

Nurse Kaise Bane

Nurse Kaise bane: नर्स कैसे बनें? योग्यता, कोर्स, फीस, कैरियर स्कोप, जॉब, बेस्ट नृसिंग कॉलेज, नर्स बनने के फायदे, ऐसे मिलेगी जॉब। How Become a Nurse Details in Hindi.

अगर आप भी नृसिंग जैसेकि ग्रोइंग फील्ड में नर्स बनना चाहते हैं तो आज के इस आर्टिकल में हम आपको Nurse kaise bane इसके बारे में हर जानकारी देंगे। इस आर्टिकल में वो हर जानकारी दी गई है, जोकीं नर्स बनने के लिए जरूरी है। मेरा इस आर्टिकल को लिखने का उद्देश्य है कि आपको इस Course और Career से जुड़ी हर जानकारी दूं। जिससे कि।आप फील्ड में सफल कैरियर बना सकेंगे।

Nurse Kaise bane

आज के समय मे नर्स की काफी ज्यादा डिमांड है, इसलिए इस फील्ड में कैरियर बनाने की चाहत बनाने वाले युवाओं की संख्या भी बढ़ रही है। अन्य फील्ड की तुलना में इसमे कैरियर के बहुत ही अच्छे अवसर है।

नर्स बनने के लिए कई तरह के कोर्स किये जा सकते हैं। जिनके लिए अलग- अलग योग्यता की जरूरत होती है। आप नर्स बनने के लिए निम्न कोर्स कर सकते हैं।

Secrets Tips

ANM (एएनएम)
GNM (जीएनएम)
Bsc Nursing (बीएससी नर्सिंग)

ANM Course kya hai

एएनएम कोर्स दो बर्षीय नृसिंग में डिप्लोमा कोर्स होता है। ये कोर्स सिर्फ लड़कियों के लिए ही होता है। जो लड़कियां नृसिंग के फील्ड में अपना कैरियर बनाना चाहती हैं, उनके लिए ये एक लोकप्रिय कोर्स है।

इस कोर्स के लिए आवश्यक योग्यता की बात करें तो 12वीं किसी भी स्ट्रीम के उम्मीदवार इसको कर सकते हैं। लेकिन 12वीं में इंग्लिश सब्जेक्ट होना चाहिए। कोर्स के बाद इंटर्नशिप भी पूरी करनी होती है। इसके बाद नर्स के तौर पर जॉब की जा सकती है।

GNM Course

जीएनएम कोर्स भी नृसिंग के फील्ड में एक बेहतरीन कोर्स माना जाता है। इस कोर्स को करने के लिए उम्मीदवार ने फिजीकस, केमेस्ट्री और बायोलॉजी सब्जेक्ट से 12वीं की होनी चाहिए।

इस कोर्स को लड़के और लड़कियां दोनो ही कर सकते हैं। इसकी अवधि 3 साल होती है। जिसके बाद 6 माह की इंटर्नशिप पूरी करनी पड़ती है।

ये एक डिप्लोमा कोर्स होता है। एएनएम की तुलना में GNM एक उच्च डिप्लोमा कोर्स होता है। इसकी फीस भी ANM Course से ज्यादा होती है। जॉब के अवसर भी इसमे ANM से ज्यादा होते हैं।

ये भी पढ़ें: GNM Course details in hindi

Bsc Nursing Course

ये एक नृसिंग मे डिग्री कोर्स होता है। इसको बैचलर डिग्री या अंडरग्रेजुएट डिग्री कोर्स भी कहते हैं। इसकी अवधि 4 साल होती है।

ये कोर्स भी लड़के और लड़कियां दोनो कर सकते हैं। इस कोर्स को करने के लिए उम्मीदवार ने फिजीकस, केमेस्ट्री और बायोलॉजी सब्जेक्ट से 12वीं पास होना चाहिए। इसके बाद इस कोर्स में एडमिशन लिया जा सकता है।

जीएनएम, एएनएम की तुलना भी बीएससी नृसिंग एक उच्च डिग्री कोर्स होता है। फिलहाल जीएनएम और बीएससी नृसिंग दोनो में कैरियर के अवसर समान ही हैं।

Career Scope as a Nurse (नर्स के तौर पर कैरियर स्कोप )

आज के समय मे नृसिंग प्रोफेशनल के लिए जॉब के बेहतरीन अवसर उपलब्ध हैं। क्योंकि हॉस्पिटल्स, नृसिंग, ट्रामा सेंटर, क्लिनिक्स की संख्या आये दिन बढ़ती जा रही है। जिस वजह से इन जगहों पर Nurse की भी डिमांड बढ़ रही है।

नर्सिंग एक ऐसा कोर्स है, जिसमे वर्तमान समय मे कैरियर के अवसरों की कमी नही है, क्योंकि ये एक ऐसा सेक्टर है, जिसमे लगातार ग्रोथ देखने को मिल रही है।

नृसिंग में डिग्री या डिप्लोमा करने के बाद स्टूडेंट्स सरकारी और प्राइवेट दोनों सेक्टरों में जॉब कर सकते हैं। इसके लिए समय- समय पर सरकार द्वारा वैकेंसी निकाली जाती हैं।

नर्सिंग की पढ़ाई पूरी करने के बाद सरकारी के अलावा निजी अस्पतालों, नर्सिंग होम, ट्रामा सेंटर्स, अनाथाश्रम, वृद्धाश्रम, आरोग्य निवास, क्लिनिक्स विभिन्न अन्य क्षेत्रों में जॉब कर सकते हैं। इतना ही नही नृसिंग के डिग्री धारक देश के अलावा विदेशों में भी जॉब कर सकते हैं।

Admission Process in Nursing

नृसिंग कोर्स में आपको डायरेक्ट भी एडमिशन मिल सकता है और प्रवेश परीक्षा के माध्यम से भी एडमिशन मिल सकता है। अगर आप इंडिया के बेस्ट कॉलेज या यूनिवर्सिटी या सरकारी कॉलेजों से नर्सिंग में डिग्री या डिप्लोमा करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको प्रवेश परीक्षा क्वालीफाई करनी होगी।
इसके अलावा आज के समय मे अनेक ऐसे औसत दर्जे के कॉलेज हैं, जंहा पर आपको डायरेक्ट ही एडमिशन मिल जाता है।

Nursing Course Fees in Hindi

इस कोर्स की फीस विभिन्न कॉलेजों में भिन्न- भिन्न होती है। गवर्नमेंट कॉलेजों में प्राइवेट कॉलेजों की तुलना में फीस काफी कम होती है। लेकिन गवर्नमेंट कॉलेजों में डायरेक्ट एडमिशन नही मिलेगा।

गवर्नमेंट और डायरेक्ट कॉलेजों की फीस में बहुत बड़ा अंतर होता है। फिलहाल नृसिंग कोर्स की 25 हजार से लेकर 1.5 लाख प्रतिबर्ष के बीच होती है।

Salary of Nurse

फिलहाल इस फील्ड में सैलरी आकर्षक होती है। लेकिन जब आप शुरुआती समय मे कोर्स करने के बाद जॉब करते हैं तो उस दौरान शुरूआत के समय आपको 10 से 15 हजार के बीच सैलरी मिलती है। लेकिन जैसे- जैसे आपका एक्सपीरिएंस बढ़ता जाता है तो आपकीं सैलरी भी बढ़ती जाती है।

Entrance Exam for Nursing Course

नृसिंग कोर्स से संबंधित कोर्स के लिए विभिन्न संस्थानों के द्वारा समय- समय पर प्रवेश परीक्षाओं का आयोजन किया जाता है। जिनमे आपको आवेदन करना होगा। फिर एग्जाम पास करने के बाद मेरिट के आधार पर एडमिशन मिलता है। चलिये प्रमुख एंट्रेंस एग्जाम के बारे में जानते हैं।

एम्स बीएससी नृसिंग एंट्रेंस एग्जाम
आर्मी कॉलेज ऑफ नृसिंग (जालंधर) एंट्रेंस एग्जाम
बनारस हिन्दू यूनिवर्सिटी नृसिंग एंट्रेंस एग्जाम
हिमांचल प्रदेश यूनिवर्सिटी नृसिंग एंट्रेंस एग्जाम
JIPMER नृसिंग एंट्रेंस एग्जाम
पंजाब पैरामेडिकल एंट्रेंस टेस्ट
हेमवती नंदन बहुगुणा यूनिवर्सिटी नर्सिंग एंट्रेंस एग्जाम
किंग जार्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी नृसिंग एंट्रेंस एग्जाम

Nursing Course kaise kare?

अगर आप नृसिंग के फील्ड में कैरियर बनाना चाहते हैं तो सबसे पहले आप ये डिसाइड करें, कि आपको नर्सिंग का कौन सा कोर्स करना है। जब आप ये डिसाइड कर लें तो अब आप किसी अच्छे और वैलिड नृसिंग कॉलेज में एडमिशन ले सकते हैं।

Nursing Course में एडमिशन के समय किन बातों को ध्यान रखना जरूरी है?

अक्सर लोग नृसिंग में एडमिशन के समय कुछ गलती कर देते हैं, जिसका खामियाजा उंनको जिंदगी भर भुगतना पड़ता है। इसलिए आपको इन गलतियों से बचना है। आप ऐसे ही जल्दबाजी में किसी भी कॉलेज में एडमिशन न लें।

अच्छी तरह से छानबीन करके उसी कॉलेज में एडमिशन लें, जो कॉलेज नृसिंग काउंसिल ऑफ इंडिया से मान्यता प्राप्त हो। इसके साथ ही कॉलेज में अच्छी टीचिंग फैकिलिटी हों और प्रैक्टिकल की सुविधाएं भी अच्छी हों। इसके साथ ही उस कॉलेज का कैम्पस प्लेसमेंट अच्छा है तो और अच्छी बात है।

Nursing से संबंधित गूगल में सर्च किये जाने वाले प्रश्न:

Government Nursing College se कोर्स करने के क्या फायदे हैं?

गवर्नमेंट कॉलेज से Nursing कोर्स करने का सबसे बड़ा फायदा ये है कि इनकी फीस बहुत कम होती है। गरीब से गरीब उम्मीदवार गवर्नमेंट कॉलेज से नृसिंग की पढ़ाई कर सकता है, लेकिन प्राइवेट कॉलजों में कई लाख रुपये इस कोर्स की फीस हो सकती है।

गवर्नमेंट कॉलेज में एडमिशन मिल पाना इतना आसान काम नही है। इसके लिए आपको पहले से ही तैयारी शुरू कर देनी चाहिए। तभी।आप गवर्नमेंट कॉलेज से नर्सिंग कर पाएंगे।

Nursing Course ke Fayde

नर्सिंग कोर्स करने का फायदा ये है कि ये बहुत ही ग्रोइंग फील्ड है। इसलिए इसमे आपको अन्य सेक्टर की तुलना में जॉब आसानी से मिल सकती है।

Nursing ke baad Job kaise milegi

नृसिंग कोर्स करने के बाद आपको इंटर्नशिप करनी होती है। जिससे आपको ये सीखने को मिलता है कि आपको कैसे काम करना है और क्या करना है। अगर आप इंटर्नशिप के दौरान ईमानदारी से सीखने पर ध्यान देते हैं और अपने काम मे एक्सपर्ट हो जाते हैं तो इसके बाद आप किसी भी हॉस्पिटल या नृसिंग होम में आसानी से जॉब पा सकते हैं। क्योंकि आपको Nursing का सारा काम तो आता ही है।

ANM और GNM दोनो में से कौन सा कोर्स अच्छा है?

दोनो ही कोर्स अच्छे है। अगर किसी के पास कम समय है और कम खर्च में कोर्स करना चाहता है तो उसके लिए ANM कोर्स सही है। क्योंकि ये मात्र 2 साल में किया जा सकता है और इसकी फीस में कम होती है। जॉब के लिहाज से दोनो ही कोर्स अच्छे हैं, लेकिन GNM की तुलना में ANM में गवर्नमेंट सेक्टर में जॉब के कुछ कम अवसर होते हैं।

GNM और Bsc Nursing दोंनो में से कौन सा कोर्स करना चाहिए?

जीएनएम एक डिप्लोमा कोर्स है और बीएससी नृसिंग एक डिग्री कोर्स है। कुछ स्पेसिफिक जॉब में बीएससी नर्सिंग को ही हायर किया जाता है तो वंहा पे GNM और ANM के कैंडिडेट अप्लाई नही कर सकते हैं। प्राइवेट सेक्टर में तो GNM और Bsc Nursing दोनो में समान ही जॉब के अवसर होते हैं। बीएससी नृसिंग कोर्स डिग्री कोर्स होने के नाते ANM और GNM से अच्छा माना जाता है।

बीएससी नर्सिंग के बाद डॉक्टर कैसे बने?

बीएससी नृसिंग के बाद डॉक्टर बनने के लिए आपको BAMS, MBBS, BUMS, BDS जैसे कोर्स करने की आवश्यकता होगी। काफी लोग इस भृम में रहते हैं कि Bsc नर्सिंग के बाद वे डॉक्टर की तरह प्रैक्टिस कर सकते है, तो ऐसा नही है।

नर्सिंग कोर्स के बाद गवर्नमेंट सेक्टर में जॉब

Hospitals
Nursing Science Schools
Clinics and Health Departments
Defence Services
Public Sector Medical Departments
Training Institutions
Industrial Factories and Houses
Railways Medical Department

बीएससी नर्सिंग के बाद किन- किन पदों पर जॉब कर सकते हैं।

Nurse
Staff Nurse
Senior Nurse
Paediatric Nurse
Nursing Supervisor
Nursing Superintendent
Patient Care Coordinator
Medical Record Technician
Assistant Nursing Superintendent

नृसिंग कोर्स के बाद पब्लिक सेक्टर में जॉब

Government Hospitals
Steel Authority of India Limited (SAIL)
Air India Air Transport Services Limited (AIATSL)
Rashtriya Ispat Nigam Ltd (RINL)
GAIL India Limited
Project and Development India Limited (PDIL)
Hindustan Copper Limited
National Thermal Power Corporation (NTPC)
Rail India Technical and Economic Services (RITES)
Nuclear Power Corporation India Limited (NPCIL)

गवर्नमेंट नर्स की सैलरी कितनी होती है?

गवर्नमेंट सेक्टर में नर्स की सैलरी 44900 से लेकर 70 हजार के आसपास होती है।

Nurse बनने के लिए कौन सा सब्जेक्ट लेना पड़ता है?

नर्स बनने के लिए कैंडिडेट को 12वीं में फिजीकस, केमेस्ट्री और बायोलॉजी सब्जेक्ट से पढ़ाई करनी होगी। इसके बाद में आपको नर्सिंग से संबंधित कोई भी कोर्स ANM, GNM या बीएससी नर्सिंग कोर्स कर सकते हैं।

नर्सिंग की तैयारी कैसे करते हैं?

अगर आप गवर्नमेंट कॉलेज से नर्सिंग कोर्स करना चाहते हैं तो आपकों इसके एग्जाम की पहले से ही तैयारी करनी होगी। आपके लिए अच्छा होगा कि आप 12वीं से ही इसकी तैयारी शुरू कर दें। इसके अलावा आप नर्सिंग के एंट्रेंस एग्जाम की तैयारी के लिए विभिन्न तरह की बुक्स खरीदकर तैयारी कर सकते हैं।

आप जिस भी यूनिवर्सिटी में नर्सिंग के लिए आवेदन करते हैं तो उसके बाद उस यूनिवर्सिटी में एंट्रेंस एग्जाम में क्या पूंछा जाता है, उसके सिलेबस की जानकारी लें, फिर उसके बाद तैयारी करें। इससे आपको तैयारी करने में आसानी रहेगी।

Bsc नर्सिंग गवर्नमेंट कॉलेज से करें या प्राइवेट कॉलेज से।

प्राइवेट कॉलेज की तुलना में गवर्नमेंट कॉलेज से नर्सिंग करना ज्यादा अच्छा रहता है। क्योंकि यंहा पर फीस कम होती है और फैसिलिटी बेहतर होती हैं।

Nursing College in India

किंग जार्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी लखनऊ
श्री शंकराचार्य कॉलेज ऑफ नर्सिंग भिलाई, छत्तीसगढ़
मद्रास मेडिकल कॉलेज चेन्नई
भारती विद्यापीठ कॉलेज ऑफ नर्सिंग पुणे
आर्म्ड फोर्सेेेस मेडिकल कॉलेज
महाराष्ट्रकेएमसीएच कॉलेज ऑफ नर्सिंग तमिलनाडु
गुरुगोविंद सिंह इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी दिल्ली
दिल्ली पैरामेडिकल ऐंड मैनेजमेंट इंस्टिट्यूट नई दिल्ली
बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी
इंदिरागांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी दिल्ली
हिमांचल प्रदेश यूनिवर्सिटी
डॉं राम मनोहर लोहिया अस्पताल स्कूल ऑफ नर्सिंग नई दिल्ली
रुहेलखंड मेडिकल कॉलेज बरेली
अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान कॉलेज ऑफ नर्सिंग नई दिल्ली
लोकमान्य तिलक मेडिकल कॉलेज मुंबई
मौलाना आजाद मेडिकल कॉलेज नई दिल्ली
जामिया हमदर्द कॉलेज ऑफ नर्सिग नई दिल्ली
देश भगत यूनिवर्सिटी पंजाब
मालवा कॉलेज ऑफ नर्सिंग पंजाब
वर्धमान महावीर मेडिकल कॉलेज एंड सफदरजंग हॉस्पिटल नई दिल्ली
आयुष एंड हेल्थ साइंस यूनिवर्सिटी रायपुर
छत्रपति शाहूजी महाराज मेडिकल यूनिवर्सिटी लखनऊ
इंस्टीट्यूट ऑफ पोस्ट ग्रेजुएट मेडिकल एंड रिसर्च कोलकाता
निम्स यूनिवर्सिटी राजस्थान
केएनएच मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल, भागलपुर बिहार
क्रिश्चियन मेडिकल कॉलेज पंजाब
तीर्थंकर महावीर यूनिवर्सिटी मुरादाबाद
एरा मेडिकल कॉलेज लखनऊ, आदि

उम्मीद है कि Nurse Kaise bane ये आर्टिकल आपको पसन्द आया होगा, क्योंकि यंहा पर मैंने नर्सिंग कोर्स और कैरियर से जुड़ी सारी जानकारी दी है, जोकीं आपके आपके लिए काफी यूजफुल साबित होगी।

careermotto

A self-motivated and hard-working individual, I am currently engaged in the field of digital marketing to pursue my passion of writing and strategising. I have been awarded an MSc in Marketing and Strategy with Distinction by the University of Warwick with a special focus in Mobile Marketing. On the other hand, I have earned my undergraduate degrees in Liberal Education and Business Administration from FLAME University with a specialisation in Marketing and Psychology.

Related Articles

Back to top button