Education

Polytechnic Meaning in Hindi

Polytechnic Meaning in Hindi: पॉलीटेक्निक का मीनिंग क्या है? पॉलीटेक्निक क्या है, इसको कैसे करें, फीस, जॉब, कैरियर स्कोप आदि के बारे में डिटेल में जानकारी।

दसवीं या 12वीं पास कर लेने के बाद में स्टूडेंट की सबसे बड़ी टेंशन ये होती है कि 10th या 12th के बाद वे क्या करें कि आगे का उनका करियर अच्छा हो जाए। लेकिन अगर उन्हें कोई सही गाइड करने वाला होता है तो अच्छा करियर बनाने में आपको सहुलियत हो सकती है। लेकिन अगर कोई गाइड करने वाला ना हो तो फिर यह बड़ी प्रॉब्लम वाली बात है। चलिये सबसे पहले मैं आपको Polytechnic Meaning in Hindi के बारे में बताते हैं, फिर आपको इससे जुड़ी सारी जानकारी स्टेप बाई स्टेप बताते हैं।

Polytechnic Meaning in Hindi

पॉलीटेक्निक का हिंदी में मीनिंग या मतलब बहुशिल्प विज्ञान होता है।

पॉलिटेक्निक एक ऐसी संस्था होती है जो विभिन्न इंजीनियरिंग और तकनीकी शाखाओं से संबंधित प्रशिक्षण प्रदान करती है।

Secrets Tips

पॉलिटेकनिक का मतलब कई औद्योगिक कलाओं और अनुप्रयुक्त विज्ञानों के बारे में ज्ञान देने वाला एक तकनीकी स्कूल से है।

Polytechnic दो शब्दों से बना है।

Poly+Technic

Poly : बहुत सारे
Technic : तकनीक

इस तरह पॉलिटेक्निक एक ऐसा कोर्स होता है जिसके अंतर्गत बहुत सारे टेक्निकल कोर्स कराए जाते हैं। जैसे अगर कोई कंप्यूटर साइंस की स्टडी करना चाहता है तो वह कंप्यूटर साइंस में पॉलीटेक्निक कर सकता है। इसी तरह अगर आपका मैकेनिकल इंजीनियरिंग में है तो आप पॉलीटेक्निक कॉलेज से मैकेनिकल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें: कंप्यूटर इंजीनियर कैसे बनें?

Polytechnic Kya hai

पॉलिटेक्निक टेक्निकल कोर्स है जिसमे सभी डिप्लोमा कोर्स कराए जाते है। यह काफी पॉपुलर कोर्स होता है। जिसके माध्यम से आप शानदार कैरियर बना सकते हैं। 10th या 12th पास करने के बाद में पॉलीटेक्निक कर सकते हैं।

पॉलिटेक्निक का एक तरह से मतलब ही इंजीनियरिंग मे डिप्लोमा (Diploma in Engineering) होता है। इस कोर्स के अंतर्गत इंजीनियरिंग की कई ब्रांच की पढ़ाई कराई जाती है। यह जूनियर लेवल के इंजीनियर को तैयार करने का एक बेस्ट कोर्स है।

जंहा बी टेक करने वाले लोग डिग्री प्राप्त करते हैं वही पॉलिटेक्निक स पढ़ाई करने वाले छात्रों को डिप्लोमा दिया जाता है। जिसके बाद वे जूनियर इंजीनियर के पद पर कैरियर की शुरआत करते हैं।

अगर आप तीन बर्षीय पॉलीटेक्निक कोर्स कर लेते हैं तो उसके बाद आप डायरेक्ट ही बीटेक के सेकेंड ईयर में एडमिशन ले सकते हैं।

बीटेक करने के बाद आपको लैटरल एंट्री के रूप में सेकंड ईयर में एडमिशन मिलता है। इसको ही लेटरल एंट्री के नाम से जानते हैं।

Polytechnic kaise kare?

पॉलीटेक्निक करने के लिए जरूरी है कि उम्मीदवार ने 10th पास कर लिया हो या जो स्टूडेंट्स 10 का एग्जाम देने जा रहे हैं तो ऐसे लोग भी पॉलीटेक्निक एंट्रेंस एग्जाम में आवेदन कर सकते हैं। जब आप इसमे आवेदन कर देते हैं तो फिर उसके बाद आपकी लिखित परीक्षा होती है। जिसमे ऑब्जेक्टिव टाइप के क्वेश्चन पूंछे जाते हैं।

ये भी पढ़ें: सॉफ्टवेयर इंजीनियर कैसे बनें?

अगर आपके अच्छे मार्क्स आते हैं तो आपको अच्छी रैंक मिलती है। जिससे आप पसन्दीदा ब्रांच से बेस्ट गवर्नमेंट पॉलीटेक्निक कॉलेज से पॉलीटेक्निक कर सकते हैं। अगर आपके कम मार्क्स आते हैं तो भी आपको प्राइवेट पॉलीटेक्निक कॉलेज में एडमिशन मिल जाता है।

Polytechnic Entrance Exam

हर साल पॉलीटेक्निक कोर्स में एडमिशन के लिए प्रदेश सरकार के द्वारा पॉलीटेक्निक जॉइंट एंट्रेंस एग्जाम आयोजित किया जाता है। आप भारत के जिस भी राज्य से हैं, उस राज्य से संबंधित पॉलीटेक्निक जॉइंट एंट्रेंस एग्जाम दे सकते हैं।

List of Engineering Branch in Polytechnic in Hindi

Mechanical engineering
Electrical engineering
Civil engineering
Electronic Engineering
Computer Engineering
Civil engineering
Automobile engineering
Electronics and communication engineering
Software engineering
chemical engineering
Dairy Technology

Polytechnic Entrance Exam में किन सब्जेक्ट से प्रश्न पूंछे जाते हैं?

मैथमेटिक्स
फिजिक्स
केमिस्ट्री

Polytechnic ke Baad Job kaise milegi

जब आप पॉलीटेक्निक कर लेते हैं, तो उसके बाद आपको उसी फील्ड में इंटर्नशिप करनी पड़ती है, जिस फील्ड में आपने पॉलीटेक्निक की है। अगर आप इंटर्नशिप के दौरान अच्छा परफॉर्म करते हैं तो आपको वंही पर जॉब मिल सकती है। वरना इंटर्नशिप पूरी करने के बाद आप विभिन्न कंपनियों में जॉब के लिए अप्लाई कर सकते हैं।

Polytechnic Course Fees

गवर्नमेंट पॉलीटेक्निक कॉलेज में फीस 10 से 20 हजार प्रतिबर्ष के बीच होती है और वंही अगर आप प्राइवेट कॉलेजों से पॉलीटेक्निक कोर्स करते हैं यंहा पर 50 हजार से लेकर 1 लाख रुपये प्रतिबर्ष तक फीस होती है।

Which polytechnic course is best?

पॉलीटेक्निक इस लिए बेस्ट कोर्स हैं, क्योंकि इसके माध्यम से आप पसंदीदा इंजीनियरिंग ब्रांच से आप Engineering कोर्स कर सकते हैं, वो भी बहुत कम फीस में। बीटेक की तुलना में इसकी फीस और ड्यूरेशन भी कम होती है। इसको स्टूडेंट्स 10वीं के बाद ही कर सकते हैं और अपना इंजीनियरिंग के फील्ड में उज्ज्वल कैरियर बना सकते हैं। पॉलिटेक्निक करने का फायदा ये भी है कि इसके बाद आपको जॉब मिलने में ज्यादा दिक्कत नही होती है।

Which polytechnic course is best for future?

पॉलीटेक्निक के सभी बेस्ट कोर्स हैं और सभी मे करिए स्कोप अच्छा है। बस डिपेंड करता है कि आपको कौन सा कोर्स पसन्द है और आप किस फील्ड में कैरियर बनाना चाहते हैं।

Is Polytechnic a good course?

हां, बिल्कुल ही पॉलीटेक्निक बेस्ट कोर्स है। ये उन स्टूडेंट्स के लिए और भी अच्छा कोर्स है, जो किसी कारणवश ज्यादा पढ़ाई नही करना चाहते हैं और ऐसा कोर्स करना चाहते हैं जिसको वे 10वीं के बाद ही करके एक बेहतरीन जॉब पा सके, तो ऐसे में पॉलीटेक्निक आपके लिए बेहतरीन ऑप्शन हो सकता है।

What is the highest package of polytechnic?

इस फील्ड में शुरुआत में आपको 15 से 20 हजार प्रतिमाह ही सैलरी मिलती है, लेकिन जैसे-जैसे आपका अनुभव और एक्सपीरियंस बढ़ता जाता है तो आपकी सैलरी भी बढ़ती जाती है। यह एक ऐसा फील्ड हैं, जंहा पर सैलरी आपके टैलेंट पर निर्भर करती है। अच्छा टैलेंट होने पर कैंडिडेट्स 50 लाख सालाना का भी पैकेज अर्जित कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें: एरोस्पेस इंजीनियर कैसे बनें?

उम्मीद है Polytechnic Meaning in Hindi ये लेख आपको पसंद आया होगा, क्योंकि यंहा पर मैंने पॉलीटेक्निक की मीनिंग के साथ ही, इससे जुड़ी सारी जानकारी उपलब्ध कराई है, जोकीं आपके लिए यूजफुल साबित होगी।

careermotto

A self-motivated and hard-working individual, I am currently engaged in the field of digital marketing to pursue my passion of writing and strategising. I have been awarded an MSc in Marketing and Strategy with Distinction by the University of Warwick with a special focus in Mobile Marketing. On the other hand, I have earned my undergraduate degrees in Liberal Education and Business Administration from FLAME University with a specialisation in Marketing and Psychology.

Related Articles

Back to top button