Film Making

Film Sound Engineer Kaise Bane। Career in Sound Engineering

Career in Sound Engineering– क्या आप साउंड इंजीनियरिंग के क्षेत्र में आना चाहते हैं। क्या आप साउंड इंजीनियरिंग में कैरियर बनाना चाहते हैं। क्या आप ये जानकारी चाहते हैं कि Film Industry Me Sound Engineer kaise bane। अगर आपको साउंड इंजीनियरिंग कैरियर के बारे में सही इन्फॉर्मेशन चाहिए, तो ये पोस्ट आपके लिए बहुत ही ज्यादा फायदेमंद साबित होगी। में आपको Sound Engineering Career की इतनी सही और सटीक जानकारी इसलिए दे पा रहा हूँ क्योंकि मैंने भी फ़िल्म इंडस्ट्री में असिस्टेंट डायरेक्टर के तौर पर काम किया है। अन्य लोगों की पोस्ट में आपकी इतनी सही जानकारी नही मिल पाएगी।

इस पोस्ट में मैंने Film Sound Engineering me Career kaise banaye इसके बारे में सभी पहलुओं पर चर्चा की है। जिससे आप आसानी से साउंड इंजीनियर बनने का सपना पूरा कर सकें। यंहा पर Sound Engineering course, Career Scope, job, Best College and Fees आदि के बारे में पूरी जानकारी मिलेगी। Start reading for Film Sound Engineer kaise bane.

Sound Engineer Kaise bane

फ़िल्म या टीवी इंडस्ट्री का साउंड इंजीनियरिंग डिपार्टमेंट काफी अहम भूमिका निभाता है। पहले कभी लोग इस सेक्टर में कैरियर को लेकर ज्यादा दिलचस्पी नही लेते थे। लेकिन आज के समय मे फ़िल्म इंडस्ट्री बहुत बड़ा बिजनेस का हब बन चुका है। एक फ़िल्म को बनाने में सैकड़ों लोगों की जरूरत पड़ती है। जिनमे से Sound Engineer अहम व्यक्ति होता है।

अगर आप Sound Engineering के फील्ड में कैरियर बनाने की सोच रहे हैं, तो आप पीसीएम सब्जेक्ट से 12वीं पास हों। लेकिन आज के समय मे ऐसे भी फ़िल्म मेकिंग इंस्टीट्यूट चल रहे हैं, जोकि Sound engineering में 3 से 6 महीने के शॉर्ट टर्म कोर्स कराते हैं, उनमे एडमिशन के लिए 12वीं में पीसीएम होना जरूरी नही है।

Secrets Tips

लेकिन अगर आप Sound Engineering कोर्स किसी अच्छे संस्थान से करना है, तो आप 12वीं पीसीएम से पास होना जरूरी है। अगर आप अच्छे कॉलेज से इस कोर्स को करते हैं, तो आपको जॉब के लिए ज्यादा भटकना नही पड़ेगा। फिल्म एंड टेलीविजन इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया से भी आप Sound Engineering Course कर सकते हैं।

लेकिन यंहा पर एडमिशन इतनी आसानी से नही मिलता है। इसके लिए आपको एंट्रेंस एग्जाम को पास करना होगा। इसके बाद मेरिट के आधार पर एडमिशन मिलता है। वंही सत्यजीत रे फ़िल्म इंस्टीट्यूट जोकि कलकत्ता में है। वंहा भी एडमिशन के लिए आपको प्रवेश परीक्षा से गुजरना होता है। इसके बाद आईआईटी आईआईटी खड़गपुर से भी आप Sound Engineering Course कर सकते हैं। इसमे एडमिशन के लिए आईआईटी एग्जाम पास करना होगा।

ये इंडिया के मोस्ट पॉपुलर Sound Engineering Institute हैं। अगर आपका दाखिला इन कॉलेज में नही हों पाता है, तो अन्य भी अच्छे कॉलेज है, वंहा से आप Sound Engineering Course कर सकते हैं। में आपको नीचे पोस्ट में सारे इंस्टीट्यूट के बारे में बता दूंगा।

इस तरह आप साउंड इंजीनियरिंग कोर्स करने के बाद किसी भी फ़िल्म प्रोडक्शन हाउस, टीवी सीरियल प्रोडक्शन हॉउस या फिर डिजिटल फ़िल्म मेकिंग प्रोडक्शन हाउस में इंटर्नशिप जरूर करें। कॉलेज में हमे उतनी अच्छी नॉलेज नही हो पाती है। इंटर्नशिप में आप रियल में Sound Engineer के साथ मे काम करते हैं और सीखते हैं। जिससे आपको सही- सही पता हो जाता है कि Sound Engineer को कैसे काम करना होता है।

Secrets Tips

इंटर्नशिप से दूसरा फायदा ये है कि अगर आप मेहनत और लगन से काम करते और सीखते हैं, तो हो सकता है, कि आपके सिनियर आपके काम से प्रभावित होकर जॉब आफर कर दें। आप इस इंडस्ट्री से जुड़े लोगों से जान- पहचान बढ़ाए। फ़िल्म इंडस्ट्री में जितनी ज्यादा आपकी जान- पहचान होगी उतनी ही आसानी से आपको काम मिलेगा।

इंटर्नशिप करने और जान- पहचान बढ़ाने के लिए सबसे आसान तरीका ये है कि आप मुम्बई के गोरेगांव ईस्ट में फ़िल्म सिटी है। आप यंहा जाए, इस जगह पर बहुत से टीवी सीरियल और फिल्मो के सेट आपको लगे मिल जाएंगे। जंहा पर फ़िल्म और टीवी सीरियल की शूटिंग होती रहती है।

आप किसी भी तरह से इन सेट पर जाएं, वंहा पर sound engineer भी होता है। जब भी वो फ्री हो, तो बहुत ही नम्रता से उसके पास जाकर आप उससे बोलें कि आप Sound Engineering में इन्टर्नशिप करना चाहते हैं या आपके असिस्टेंट के तौर पर काम करना चाहते हैं। इस तरह अनेक सेटों पर जाकर कोशिस करें। कंही न कंही आपका काम बन जायेगा।

जंहा भी जाएं वंहा के Sound Engineer का कांटेक्ट नंबर भी ले लें। जिससे कि आप उसके लिंक में रहेंगे। कभी- कभी व्हाट्सएप से कांटेक्ट करते रहें। जिससे की वो आपको भूलेगा नही। जैसे ही उसके लिंक में कोई वैकेंसी या इंटर्नशीप होगी आपको बता देगा।

दूसरा तरीका ये है कि आप प्रोडक्शन हाउस और पोस्ट प्रोडक्शन हाउस में जाकर कांटेक्ट करें और रिज्यूम जमा करें। इस इंडस्ट्री में आपकी डिग्री कोई मायने नहीं रखती है। अगर आपको काम आता है और आपके लोगों से लिंक अच्छे हैं, तो आपको काम मिलने में दिक्कत नही होगी। इस तरह आप Sound Engineering Career की शुरुआत कर सकते हैं।

मैंने इस फील्ड के बारे में आपको सच्चाई बताई है, जिससे आप आसानी से Sound Engineering में job पा सकें। अगर आप अच्छे इंस्टीट्यूट से Sound Engineering Course करेंगे, तो आपको वंहा पर आपको बहुत सी चीजें सीखने को मिलेगी। जिससे आपको आसानी से जॉब मिल सकेगी।

Sound Engineering kya hai

अक्सर लोगो के मन मे ये ख्याल आता होगा कि साउंड इंजीनियरिंग क्या है? देखिए यह इंजीनियरिंग का एक ब्रांच है, जिसमे म्यूजिक, मूवी और थियेटर की रिकॉर्डिंग, मिक्सिंग और रिप्रोडक्शन से जुड़ी चीजें के बारे में पढ़ाया जाता है। Sound Engineer का मुख्य काम यही होता है कि किसी भी प्रोजेक्ट के लिए जिस तरह की साउंड की जरूरत होती है।

साउंड इंजीनियर उसी के मुताबिक साउंड को क्रिएट करता है और रिकॉर्डिंग करता है। Sound engineering काफी चुनौतीपूर्ण काम होता है। इसके अंतर्गत साउंड के उतार, चढ़ाव, म्यूजिक, स्पीच आदि के कॉम्बिनेशन द्वारा साउंड को हाई क्वालिटी का बनना होता है। इसके लिए कई तरह के इंस्ट्रूमेंट्स उपयोग में लाये जाते हैं। Sound Engineering Career के लिए आपको क्वालिटी साउंड क्रिएशन की अच्छी समझ होनी चाहिए।

Also Read-फिल्म डायरेक्टर कैसे बने

Career Scope in Sound Engineering

आज के समय मे साउंड इंजीनियरिंग में जॉब के अवसरों की कमी नही है। पहले कभी फ़िल्म इंडस्ट्री में कैरियर को लेकर संदेह में रहते थे। लेकिन आज की परिस्थिति कुछ और है। आजके समय मे तो हर कोई इस फील्ड में काम करना चाहता हैं। वर्तमान समय मे फ़िल्म मेकिंग बिजनेस काफी बढ़ चुका है। हॉलीवुड के बाद में दुनिया मे बॉलीवुड ही दूसरे नम्बर पर आता है। हमारे देश मे प्रतिबर्ष बिभिन्न भाषाओं में हजारों फिल्मे बनती है। इसी कारण इस सेक्टर में एक्सपर्ट लोगो की डिमांड भी बढ़ रही है। Sound Engineering में अनेक जॉब के विकल्प हैं। जैसेकि..

  • बॉलीवुड फिल्म मेकिंग
  • साउथ फ़िल्म मेकिंग
  • भोजपुरी फ़िल्म मेकिंग
  • टीवी सीरियल
  • वॉइस प्रोडक्शन कंपनी
  • डिजिटल फ़िल्म मेकिंग (मल्टीमीडिया एंड एनिमेशन)
  • म्यूजिक कंपनी
  • पोस्ट प्रोडक्शन हाउस
  • ऐड फिल्म्स
  • रेडियो
  • स्टूडियोज

Job Roles in Sound Engineering

  • साउंड इंजीनियरिंग में आपको निम्न पदों पर काम करने का मौका मिलता है, जैसे..
  • साउंड इंजीनियर
  • ऑडियो इंजीनियर
  • स्टूडियो मैनेजर
  • स्टूडियो डिजाइनर
  • स्टूडियो टेक्निशियन
  • असिस्टेंट इंजीनियर
  • मल्टीमीडिया डेवलपर

Sound Engineering Course

आज के समय मे साउंड रिकॉर्डिंग एंड इंजीनियरिंग से रिलेटेड अनेक कोर्स इंस्टीट्यूट में उपलब्ध हैं। सर्टिफिकेट से लेकर डिग्री तक के कोर्स विभिन्न संस्थाओं द्वारा कराए जा रहे हैं। इनकी अवधि 3 महीने से लेकर 3 साल तक होती है। Sound Engineering Course की फीस हर संस्थान की अलग-अलग होती है। इन कोर्स की फीस 40 हजार से लेकर 2 से 3 लाख तक हो सकती है। 3 से 6 माह के कोर्स की फीस 40 से 50 हजार तक होती है।

  • सर्टिफिकेट कोर्स (3 से 6 माह)
  • डिप्लोमा कोर्स (1 से 2 बर्ष)
  • पीजी डिप्लोमा (1 से 2 बर्ष)
  • बैचलर डिग्री (3 से 4 बर्ष)
Sound Engineer Salary

इस क्षेत्र में सैलरी काफी आकर्षक मिलती है। एक sound engineer की शुरआती सैलरी 20 से 25 हजार होती है। 4 से 5 साल का अनुभव होने के बाद 50 हजार से 1 लाख तक सैलरी हो सकती है।

Best Institute for Sound Engineering Course

  • फ़िल्म एंड टेलीविजन इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया, पुणे
  • सत्यजीत रे फ़िल्म एंड टेलीविजन इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया, कलकत्ता
  • आईआईटी खड़गपुर
  • गवर्नमेंट फ़िल्म एंड टेलीविजन इंस्टीट्यूट बंगलोर
  • बीजू पटनायक फ़िल्म एंड टेलीविजन इंस्टीट्यूट, कुट्टक
  • भारतीय विद्या भवन, दिल्ली
  • यूनिवर्सिटी ऑफ मुम्बई
  • डिजिटल फ़िल्म इंस्टीट्यूट मुम्बई
  • एशियन एकेडमी ऑफ फ़िल्म एंड टेलीविजन, नोयडा
  • नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ फिल्म एंड फाइन आर्ट्स, कोलकाता

careermotto

A self-motivated and hard-working individual, I am currently engaged in the field of digital marketing to pursue my passion of writing and strategising. I have been awarded an MSc in Marketing and Strategy with Distinction by the University of Warwick with a special focus in Mobile Marketing. On the other hand, I have earned my undergraduate degrees in Liberal Education and Business Administration from FLAME University with a specialisation in Marketing and Psychology.

Related Articles

Back to top button